Koo App Kya Hai Aur Koo App Kaise Use Kare?

What is Koo App In Hindi – Koo ऐप को आत्मनिर्भर एप्प इन्नोवेशन चैलेंज भारत सरकार द्वारा आयोजित आपके द्वारा बनाया गया हैं। Koo ऐप एक माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है, जिसका logo एक पीले पक्षी जैसा दिखता है। यह ऐप इंग्लिश के अलावा, भारत की लोकल भाषा जैसे हिंदी तमिल तेलुगू मलयालम बांग्ला उड़िया मराठी कन्नड़ पंजाबी और अन्य क्षेत्रीय भाषा में सपोर्ट करता है 

 

Koo ऐप को एंड्राइड और आईओएस दोनों वर्जन मैं उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा यह ऐप 400 अक्षरों तक उपयोग करने की परमिशन देता है जबकि ट्विटर आपको सिर्फ 280 वर्णों को उपयोग करने की अनुमति देता है। इसके साथ साथ यह आपको वेब लिंक और पिक्चर को शेयर करने की भीीी अनुमति देता है। इस ऐप की सबसेेेे खास बात यह है कि यह ऑडियो और वीडियो रिकॉर्डिंग को भी सपोर्ट करता है और यूजर्स को @ का इस्तेमाल करके हैशटैग और लोगों को भी टैग कर सकते हैं।

Koo App Kya Hai? Koo App Kaise Use Kare?

Koo ऐप से संबंधित कुछ इंपॉर्टेंट सवाल और उनके स्पष्ट जवाब।

FAQs-

1. Koo App का Owner कौन हैं?

इस App को मार्च 2020 में उद्यमियों Aprameya Radhakrishna और मयंक बिदावतका द्वारा लॉन्च किया गया था। पिछले वर्ष, इस ऐप ने भारत सरकार द्वारा आयोजित ‘Atma Nirbhar App Innovation Challenge’ जीता था।

2. Koo App पर कौन से प्रमुख Account हैं?

इस App में प्रमुख राजनेता, क्रिकेटर और फिल्मी हस्तियों के अकाउंट शामिल हैं। जैसे – कंगना राणावत (अभिनेत्री), पीयूष गोयल (कामर्स मिनिस्टर), और बीजेपी के बहुत चर्चित और लोकप्रिय सांसद तेजस्वी सूर्या, रवी शंकर प्रसाद (आईटी मिनिस्टर), अनिल कुंबले (पूर्व क्रिकेटर) और जग्गी वासुदेव (ईशा फाउंडेशन) जैसे लोग शामिल हैं। 

3. Koo App Kaise Use Kare?

  • गूगल प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से Koo App को Download करके open करे।
  • अब आप अपने पसंदीदा लैंग्वेज चुने और अपने फोन नंबर के साथ एक New Account के लिए Sign Up करे।
  • आपके द्वारा प्रोवाइड किए गए नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा।
  • ओटीपी के Verification पर, आपका अकाउंट सेट किया जाएगा।
  • इसके बाद, आपको एक User Name चुनने और अपनी एक प्रोफाइल फोटो अपलोड करने और संक्षिप्त में अपने बारे में जानकारी प्रदान करने की आवश्यकता है।

4. Koo App को इस्तेमाल करना सुरक्षित हैं?

एथिकल हैकर रॉबर्ट बैप्टिस्ट के मुताबिक, Koo ऐप यूजर्स के पर्सनल जानकारी को लीक कर रहा है जिसमें यूजर्स की ईमेल आईडी, नाम, जन्मतिथि, लिंग और वैवाहिक स्थिति शामिल है। हालांकि Koo App के Co Founder राधाकृष्ण ने इस बात को सिरे से खारिज की है। राधाकृष्ण के मुताबिक, सिर्फ इतनी जानकारी है जो यूूजर्स द्वाराा उसके प्रोफाइल पेज पर साझा की गई है।

5. क्या Koo App को मुफ्त में उपयोग कर सकते हैं?

जी हां, Koo ऐप का इस्तेमाल करना बिल्कुल फ्री है। और यह गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर पर उपलब्ध है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status