Dard Shayari In Hindi

Dard Shayari In Hindi, पेनफुल या दर्द भरी शायरी हिंदी

Dard Shayari In Hindi

1. उसे अपना कहने की बड़ी तमन्ना थी दिल मे,
इससे पहले कि बात लबो पर आती वो गैर के हो गये।

2. देर तक आंसू भरी आंखों को ही मलते रहे
धूप से पीछा छूटा तो छाव में जलते रहे
मेरे दिल ने मुझसे रह रहकर किया बस यही सवाल
की जब बिछड़ना ही था तो साथ क्यों चलते रहे

3. बहारों के फूल एक दिन मुरझा जायेंगे,
भूले से कहीं याद तुम्हें हम आ जायेंगे,
अहसास होगा तुमको हमारी मोहब्बत का,
जब कहीं हम तुमसे बहुत दूर चले जायेंगे।

4. दिल करता है चुरा लूं तुझे तकदीर से
क्योंकि दिल नहीं भरता तेरी तस्वीर से

5. या खुदा तुमसे एक गुजारिस हैं कभी किसी को प्यार का रोग मत देना अगर देना त जिंदगी भर निभाने का जिगर भी देना

6. किसी ने हमसे पुछा दर्द कैसा होता है
हमने भी मुस्कुरा कर बोल दिया
एक बार किसी से दिल
लगा कर देखो पता चल जाएगा।

7. जीता हूं तेरा नाम लेकर
मरने के बाद भी अंजाम होगा
कफ़न उठा कर देख लेना
हर जख्म पर तेरा नाम होगा

8. ना कर जिद ए दिल अपनी हद में रहे
वह बड़े लोग हैं अपनी मर्जी से याद करते हैं

9. खुशियों से नाराज़ है मेरी ज़िन्दगी,
बस प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िन्दगी,
हँस लेता हूँ लोगों को दिखाने के लिए,
वैसे तो दर्द की किताब है मेरी ज़िन्दगी।

10. दिल करता है चुरा लूं तुझे तकदीर से
क्योंकि दिल नहीं भरता तेरी तस्वीर से

Bewafa Shayari In Hindi

Dard Shayari In Hindi

11. एक बार अपनी बाहों में सुला तो सही झूटा सही प्यार दिखा तो सही
सुना है मांगती हो रब से कि खुश ना रहूं
में जीना छोड़ दूंगा तू आ तो सही

12. ना तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये,
ना तुम हो मेरे पास जो प्यार किया जाये,
ये कौन सा दर्द दिया है तुमने ऐ सनम,
ना कुछ कहा जाये ना तुम बिन रहा जाये।…

13. जनाजा मेरा उठ रहा था;
फिर भी तकलीफ थी उसे आने में;
बेवफा घर में बैठी पूछ रही थी;
और कितनी देर है दफनाने

14. लोग कहते हैं कि दुख बहुत बुरा होता है जब भी आता है रुला देता है,
और हम कहते है दुख बहुत अच्छा होता है जब भी आता है कुछ सीख देता है

15. बड़ी तड़प से मैने उसे प्यार किया
एक मुद्दत तक मैने इन्त्जार किया
वो यू चला गया परदेश को जब
फ़िर ना उसने मुझे प्यार किया
ना फ़िर मुझे याद किया

16. जनाजा मेरा उठ रहा था;
फिर भी तकलीफ थी उसे आने में;
बेवफा घर में बैठी पूछ रही थी;
और कितनी देर है दफनाने में

17. ना तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये,
ना तुम हो मेरे पास जो प्यार किया जाये,
ये कौन सा दर्द दिया है तुमने ऐ सनम,
ना कुछ कहा जाये ना तुम बिन रहा जाये।…

18. पत्ते  हिलते  नहीं हवा हिलाती है
लङके बिगड़ते नहीं  लङकीया बिगाड़ते है।

19. वो शख्स मेरे हर किस्से कहानी में आया जो मेरा हिस्सा होकर भी मेरे हिस्से ना आया

20. मुझसे धोखा करने की सझा
ना देना उसे अये खुदा
गलती हमने की और
सझा उसे क्यों मिले

Dard Shayari In Hindi

21. खुशियों से नाराज़ है मेरी ज़िन्दगी,
बस प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िन्दगी,
हँस लेता हूँ लोगों को दिखाने के लिए,
वैसे तो दर्द की किताब है मेरी ज़िन्दगी।

22. इसी ख्याल से गुज़री है शाम-ए-ग़म अक्सर,
कि दर्द हद से जो गुज़रेगा तो मुस्कुरा दूंगा…!

23. नफ़रत करना तो हमने कभी सिखा ही नहीं,
मैंने तो दर्द को भी चाहा है अपना समझ कर।

24. लोग जलते रहे मेरी मुस्कान पर,
मैंने दर्द की अपने नुमाईश न की
जब जहाँ जो मिला अपना लिया,
जो न मिला उसकी ख्वाहिश न की।

25. हम ने कब माँगा है तुम से
अपनी वफ़ाओं का सिला,

बस दर्द देते रहा करो
मोहब्बत बढ़ती जाएगी ।

26. हकीकत में खामोशी
कभी भी चुप नहीं रहती,
कभी तुम ग़ौर से सुनना
बहुत किस्से सुनाती है ।

27. मोहब्बत का मेरे सफर आख़िरी है,
ये कागज कलम ये गजल आख़िरी है ।
मैं फिर ना मिलूँगा कहीं ढूंढ लेना,
तेरे दर्द का ये असर आख़िरी है ।

28. चंद साँसे बची हैं आखिरी बार दीदार दे दो,
झूठा ही सही एक बार मगर तुम प्यार दे दो,
जिंदगी वीरान थी और मौत भी गुमनाम ना हो,
मुझे गले लगा लो फिर मौत मुझे हजार दे दो।

29. रोज़ पिलाता हूँ एक ज़हर का प्याला उसे…
एक दर्द जो दिल में है मरता ही नहीं है ।

30. कब ठहरेगा दर्द ऐ दिल कब रात बसर होगी,
सुनते थे कि वो आयेंगे सुनते थे सुबह होगी ।
कब जान लहू होगी, कब अश्क गुहर होगा,
किस दिन तेरी शुनवाई, ऐ दीद-ए-तर होगी।

Dard Shayari In Hindi

31. बेनाम सा यह दर्द ठहर क्यों नहीं जाता,
जो बीत गया है वो गुज़र क्यों नहीं जाता,
वो एक ही चेहरा तो नहीं सारे जहाँ में,
जो दूर है वो दिल से उतर क्यों नहीं जाता।

32. ना तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये,
ना तुम हो मेरे पास जो प्यार किया जाये,
ये कौन सा दर्द दिया है तुमने ऐ सनम,
ना कुछ कहा जाये ना तुम बिन रहा जाये।

33. कितना लुत्फ ले रहे हैं लोग मेरे दर्द-ओ-ग़म का,
ऐ इश्क देख तूने तो मेरा तमाशा ही बना दिया।

34. दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता,
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता,
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में,
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता।

35. ना किया कर अपने दर्द को
शायरी में बयान ऐ दिल,
कुछ लोग टूट जाते हैं
इसे अपनी दास्तान समझकर।

36. रात को कह दो, कि जरा धीरे से गुजरे;
काफी मिन्नतों के बाद, आज दर्द सो रहा है।

37. मेरी हर आह को वाह मिली है यहाँ,
कौन कहता है दर्द बिकता नहीं है।

38. बहुत हो चुका इंतज़ार उनका,
अब और ज़ख़्म सहे जाते नहीं,
क्या बयान करें उनके सितम को,
दर्द दिल के हैं कहे जाते नहीं।

39. ना कर तू इतनी कोशिशे,
मेरे दर्द को समझने की,
पहले इश्क़ कर,
फिर चोट खा,
फिर लिख दवा मेरे दर्द की।

40. दर्द को छुपाए बैठा रहा,
आंखों की नमी को छुपाए बैठा रहा,
उम्मीद टूटी नहीं है अभी भी,
तेरे लौट आने की खुशी में बैठा रहा।

Dard Shayari In Hindi

41. भुला कर हमें क्या वो खुश रह पाएंगे,
साथ में नही तो मेरे जाने के बाद मुस्कुरायेंगे,
दुआ है खुदा से की उन्हें कभी दर्द न देना,
हम तो सह गए पर वो टूट जायेंगे।

42. जब कभी तेरा नाम लेते हैं,
दिल से हम इन्तेकाम लेते हैं,
मेरी बरबादियों के अफसाने
मेरे यारों का नाम लेते हैं।

43. दर्द होता है मगर शिकवा नहीं करते,
कौन कहता है कि हम वफा नही करते,
आखिर क्युँ नहीं बदलती तकदीर “आशिक” की
क्या मुझको चाहने वाले मेरे लिए दुआ नहीं करते।

44. दर्द तो बहुत है दिल में
पर दिखा नही सकते,
करते है मोहब्बत तुमसे
पर बता नही सकते।

45. ज़िन्दगी देने वाले यूँ मरता छोड़ गए,
अपनापन जताने वाले यूँ तनहा छोड़ गए,
जब पड़ी जरुरत हमें अपने हमसफ़र की,
तो साथ चलने वाले अपना रास्ता मोड़ गए.

46. हो सके तो पहचान लो
मेरे दर्द का सबब मेरी नज़र से
ऐ दोस्तों
मै ज़ुबान से कहूंगा…
तो कुछ लोग रुसवा हो जायेंगे।

47. ज़िन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है,
ज़ुल्फ़-ओ-रुखसार की जन्नत नहीं कुछ और भी है,
भूख और प्यास की मारी हुई इस दुनिया में,
इश्क ही इक हकीकत नहीं कुछ और भी है।

48. ज़ख्म सब भर गए बस एक चुभन बाकी है,
हाथ में तेरे भी पत्थर था हजारों की तरह,
पास रहकर भी कभी एक नहीं हो सकते,
कितने मजबूर हैं दरिया के किनारों की तरह।

49. सीख रहा हूँ मै भी अब मीठा झूठ बोलने का हुनर,
कड़वे सच ने हमसे, ना जाने, कितने अज़ीज़ छीन लिए।

50. तू तब तक रूला सकती है हमें,
जब तक हम दिल मे बसाये हैं तुझे

Dard Shayari In Hindi

51. जो नजर से गुजर जाया करते हैं,
वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं,
कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते,
बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

52. ​ज़िस्म से मेरे तड़पता दिल कोई तो खींच लो​,
मैं बगैर इसके भी जी लूँगा मुझे अब ​ये यकीन ​है।

53. एक हसरत थी कि उनके दिल में पनाह मिलेगी,
क्या पता था उनसे मोहब्बत की सज़ा मिलेगी,
न अपनों ने समझा न गैरों ने जाना,
क्या पता था मेरी तक़दीर ही मुझे बेवफा मिलेगी।

54. इलाजे-दर्दे-दिल तुमसे मसीहा हो नहीं सकता,
तुम अच्छा कर नहीं सकते मैं अच्छा हो नहीं सकता।

55. ख्वाहिश तो ना थी किसी से दिल लगाने की,
मगर जब किस्मत में ही दर्द लिखा था…
तो मोहब्बत कैसे ना होती।

56. बिजलियाँ टूट पड़ी… जब वो मुकाबिल से उठा,
मिल के पलटी थीं निगाहें कि धुआँ दिल से उठा।

57. दुनिया बहुत मतलबी है,
साथ कोई क्यों देगा,
मुफ्त का यहाँ कफ़न नहीं मिलता,
तो बिना गम के प्यार कौन देगा।

58. क्या बताऊँ अपना हाल ए दिल मैं तुम्हें,
देखूं जिधर बस एक ही नूर नज़र आये,
अब बता भी दो दवा ए दर्द क्या है इसकी,
या फिर किसी जाल में फसाया है तुमने हमें।

59. मोहब्बत का घना बादल बना देता तो अच्छा था,
मुझे तेरी आँख का काजल बना देता तो अच्छा था,
तुझे पाने की ख्वाइश अब जीने नहीं देती,
खुदा तू मुझे पागल बना देता तो अच्छा था

60. रिहाई दे दो हमें अपनी मोहब्बत की कफस से,
कि अब ये दर्द हमसे और सहा नहीं जाता।

61. हम तो जी रहे थे उनका नाम लेकर
वो गुज़रते थे हमारा सलाम लेकर
कल वो कह गये भुला दो हुमको
हमने पूछा कैसे…?
तो चले गये हाथो मे जाम देकर

62. रास्ते वही होंगे और नज़ारे वही होंगे,
पर हमसफ़र अब हम तुम्हारे नहीं होंगे।

63. बदले तो नहीं हैं वो… दिल-ओ-जान के करीने,
आँखों की जलन, दिल की चुभन अब भी वही है।

64. खुद को औरों की तवज्जो का तमाशा न करो,
आइना देख लो अहबाब से पूछा न करो,
शेर अच्छे भी कहो, सच भी कहो, कम भी कहो,
दर्द की दौलत-ए-नायाब को रुसवा न करो।

65. बिखरे अरमान, भीगी पलकें और ये तन्हाई,
कहूँ कैसे कि मिला मोहब्बत में कुछ भी नहीं।

66. कहीं किसी रोज़ यूँ भी होता,
हमारी हालत तुम्हारी होती,
जो रात हमने गुज़ारी तड़प कर,
वो रात तुमने गुज़ारी होती।

67. आशियाँ बस गया जिनका, उन्हें आबाद रहने दो,
पड़े जो दर्द भरे छाले, जिगर में यूँ ही रहने दो,
कुरेदो ना मेरे दिल को, ये अर्जी है जहां वालों,
छिपा है राज अब तक जो, राज को राज रहने दो।

68. बहारों के फूल एक दिन मुरझा जायेंगे,
भूले से कहीं याद तुम्हें हम आ जायेंगे,
अहसास होगा तुमको हमारी मोहब्बत का,
जब कहीं हम तुमसे बहुत दूर चले जायेंगे।

69. एक फ़साना सुन गए एक कह गए,
हम जो रोये तो मुस्कुराकर रह गए।

70. सजा कैसी मिली मुझको तुमसे दिल लगाने की,
रोना ही पड़ा है जब कोशिश की मुस्कुराने की,
कौन बनेगा यहाँ मेरी दर्द-भरी रातों का हमराज,
दर्द ही मिला जो तुमने कोशिश की आजमाने की।

यह भी पढें: 

3 thoughts on “Dard Shayari In Hindi, पेनफुल या दर्द भरी शायरी हिंदी”

  1. Pingback: Judai Shayari In Hindi | जुदाई शायरी हिंदी में | Catchhow

  2. Pingback: Love Shayari In Hindi | हिंदी लव शायरी, रोमांटिक हिंदी शायरी | Catchhow

  3. Pingback: Breakup Shayari In Hindi, Latest Breakup Shayari | Catchhow

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *