Bewafa Shayari In Hindi

Bewafa Shayari In Hindi | बेवफाई शायरी हिंदी में

Bewafa Shayari In Hindi

1. टूटे हूए प्याले मे जाम नही आता ।
इकश मे मरिज को आराम नही आता ।
ये बेवाफा दिल तोडने से पहले ये सोच लिया होता ।
कि टूटा हुआ दिल किसी के काम नही आता ।।

2. दुनिया मे तेरे इशक का चर्चा ना करेंगे ,
मर जायेंगे लेकीन तुझे रूसवा ना करेंगे ,
गिसताख निगाहो से अगर तुमको गिला है ,
हम दूर से भी अब तूमहे देखा ना करेंगे ,,,

3. हमने प्यार किया था तुमसे अपना समझ के
तोड़ दिया मेरे दिल को तुमने शीशा समझ के

4. गम मिला तो सह ना सके,
खुशी मिली तो मुस्कुरा ना सके,
मेरी जिंदगी ही क्या जिसे चाहा उसे पा ना सके

5. ** किसी मोड़ पर अगर मैं bura laga
**तो जमाने को बताने से पहले **
** मुझे एक बार जरूर बता देना**
**क्योंकि बदलना मुझे है जमाने को नही**.

6. मेरे दिल में न आओ वर्ना डूब जाओगे,
गम के आँसू का समंदर है मेरे अन्दर।

7. जब मुझे तुम पर भरोसा था
तब तुम किसी और पर मरते थे
जब तुम्हें भरोसा हुआ मुझ पर
तब हम किसी और पर मरते थे।

8. हंसाकर क्यूं रुला देती है दुनिया,,
जाने के बाद क्यूं भुला देती है दुनियां
जिंदगी में क्या कोई कमी बाकी थी,,
जो मरने के बाद भी जला देती है दुनिया

9. वो रोए तो बहुत पर मुझसे मुंह मोड़ कर रोए
कोई मजबूरी होगी तो दिल तोड़कर रोए
मेरे सामने ही कर दिए मेरी तस्वीर के टुकड़े
पता चला मेरे पीछे वो उन्हें जोड़कर रोए

10. वह बेवफा न था खुद ही बदनाम हौ ग्या
हजारो चाहने वाले थे किस किस‌से वफा‌ करता।

Bewafa Shayari In Hindi

Bewafa Shayari In Hindi

11. हमने प्यार किया था तुमसे अपना समझ के
तोड़ दिया मेरे दिल को तुमने शीशा समझ के

12. बेवफा तो बेवफा होती है पर दिल ना दिया किसी को मूहाबत एक से किया पर धोका दिया उसीनेही

13. जो अपना था उसी ने धोखा दिया
जिसे पर्याय माना अपना निकला
साले जिंदगी किस काम की
जो बेवफाई निकल जाए दूसरों के साथ

14. कौन कहता है कि आंसुओं में वज़न नहीं होता,
एक भी छलक जाए तो मन हल्का हो जाता है

15. जिंदगी देने वाले
मरता छोड़ गये
अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये
जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की
वो जो साथ चलने वाले रास्ता मोड़ गये।

16. हंसाकर क्यूं रुला देती है दुनिया,,
जाने के बाद क्यूं भुला देती है दुनियां
जिंदगी में क्या कोई कमी बाकी थी,,
जो मरने के बाद भी जला देती है दुनिया

17. ना हीरो की तमन्ना थी
ना परियो पर मरता था
वो एक भोली सी लड़की थीं
जिसे मै बहुत प्यार करता था।

18. वो रोए तो बहुत पर मुझसे मुंह मोड़ कर रोए
कोई मजबूरी होगी तो दिल तोड़कर रोए
मेरे सामने ही कर दिए मेरी तस्वीर के टुकड़े
पता चला मेरे पीछे वो उन्हें जोड़कर रोए

19. जब मुझे तुम पर भरोसा था
तब तुम किसी और पर मरते थे
जब तुम्हें भरोसा हुआ मुझ पर
तब हम किसी और पर मरते थे

20. हसना और हसाना कोशिश है मेरी
हर कोई खुश रहे ये दुआ है मेरी
भले ही मुझे कोई याद करे या न करे
पर हर किसी को याद करना आदत है मेरी

Bewafa Shayari In Hindi

21. हंसाकर क्यूं रुला देती है दुनिया,,
जाने के बाद क्यूं भुला देती है दुनियां
जिंदगी में क्या कोई कमी बाकी थी,,
जो मरने के बाद भी जला देती है दुनिया

22. ऐसी मोहब्बत उसने की मोहब्बत भी बदनाम हो गई,
अपनी मोहब्बत कितनी कीमत वसूल की कि मेरी कब्र भी नीलाम हो गई

23. जब नजरें मिलती हैं उनसे तो…,
हम पलकों को थाम लेते हैं…,
कहीं तुम मुझसे दूर न हो जाओ…,
इसलिए मोहब्बत को दोस्ती का…,
नाम देते हैं…,

24. ऐसी मोहब्बत उसने की मोहब्बत भी बदनाम हो गई अपनी मोहब्बत कितनी कीमत वसूल की कि मेरी कब्र भी नीलाम हो गई

25. काश वो पाल साथ वित्त आय न होते जिन्हें याद कर आज ये आसूं आये न होते इतनी दुर जाना था तो इतनी गहरी से
दिल में समये ना होते

26. मेरी जिंदगी ने पूछा कौन सी लड़की चाहिए तुझे,
मैंने जिंदगी को जवाब दिया मुझे तो मेरी प्रिया चाहिए I love you प्रिया मैं tanha अकेला था मगर मेरी प्रिया ने मुझे अपने दिल में जगा दी

27. आज कतरा के गुजरते हुए पाया है तझे,
बेवफाई का हुनर किसने सिखाया है तुझे

28. बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

29. किसी की खातिर मोहब्बत की इन्तेहाँ कर दो,
लेकिन इतना भी नहीं कि उसको खुदा कर दो,
मत चाहो किसी को टूट कर इस कदर इतना,
कि अपनी वफाओं से उसको बेवफा कर दो।

30. तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझ को भुलाया नहीं अभी।

Bewafa Shayari In Hindi

Bewafa Shayari In Hindi

31. वो जमाने में यूँ ही बेवफ़ा मशहूर हो गये दोस्त,
हजारों चाहने वाले थे किस-किस से वफ़ा करते।

32. मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना,
गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना,
जो दिया है तुमने वो दर्द हम सह लेंगे मगर,
किसी और को अपने प्यार की सजा मत देना।

33. मुझे तू अपना बना या न बना तेरी खुशी,
तू ज़माने में मेरे नाम से बदनाम तो है।

34. उसके तर्क-ए-मोहब्बत का सबब होगा कोई,
जी नहीं मानता कि वो बेवफ़ा पहले से था।

35. हसीं चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये हैं,
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये हैं,​
महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश​,
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये है।

36. आज कतरा के गुजरते हुए पाया है तझे,
बेवफाई का हुनर किसने सिखाया है तुझे।

37. गर हमें तेरी बदनामियों का डर न होता,
न तू वेवफा कहती… न मैं वेवफा होता।

38. मैंने कुछ इस तरह से खुद को संभाला है,
तुझे भुलाने को दुनिया का भरम पाला है,
अब किसी से मुहब्बत मैं कर नहीं पाता,
इसी सांचे में एक बेवफा ने मुझे ढाला है।

39. हमने चाहा था जिसे उसे दिल से भुलाया न गया,
जख्म अपने दिल का लोगों से छुपाया न गया,
बेवफाई के बाद भी प्यार करता है दिल उनसे,
कि बेवफाई का इल्ज़ाम भी उस पर लगाया न गया।

40. तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना,
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे,
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर,
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।

Bewafa Shayari In Hindi

41. इक उम्र तक मैं जिसकी जरुरत बना रहा
फिर यूँ हुआ कि उस की जरुरत बदल गई।

42. इकरार बदलते रहते है… इंकार बदलते रहते हैं,
कुछ लोग यहाँ पर ऐसे है जो यार बदलते रहते हैं।

43. वो कहता है… कि मजबूरियां हैं बहुत…
साफ लफ़्ज़ों में खुद को बेवफा नहीं कहता।

44. ​​​​दोस्त बनकर भी वो नहीं साथ निभानेवाला,
वही अंदाज़ है उस ज़ालिम का ज़माने वाला।

45. खुश हूँ कि मुझको जला के तुम हँसे तो सही,
मेरे न सही… किसी के दिल में बसे तो सही।

46. जल-जल के दिल मेरा जलन से जल रहा,
एक अश्क मेरे आँख में मुद्दत से पल रहा,
जिसका मैं कर रहा हूँ घुट-घुट के इंतजार,
वो बेवफा ना आई मेरा दम निकल रहा।

47. चलो खेलें वही बाजी
जो पुराना खेल है तेरा,
तू फिर से बेवफाई करना
मैं फिर आँसू बहाऊंगा।

48. जिन फूलों को संवारा था
हमने अपनी मोहब्बत से,
हुए खुशबू के काबिल तो
बस गैरों के लिए महके।

49. नफरत को मोहब्बत की आँखों में देखा,
बेरुखी को उनकी अदाओं में देखा,
आँखें नम हुईं और मैं रो पड़ा…
जब अपने को गैरों की बाहों में देखा।

50. न जाने क्या है..? उसकी उदास आंखों में,
वो मुँह छुपा के भी जाये तो बेवफा न लगे।

Bewafa Shayari In Hindi

51. मुझे शिकवा नहीं कुछ बेवफ़ाई का तेरी हरगिज़,
गिला तो तब हो अगर तूने किसी से निभाई हो।

52. इल्जाम न दे मुझको तूने ही सिखाई बेवफाई है,
देकर के धोखा मुझे मुझको दी रुसवाई है,
मोहब्बत में दिया जो तूने वही अब तू पाएगी,
पछताना छोड़ दे तू भी औरों से धोखा खायेगी।

53. माना कि मोहब्बत की ये भी एक हकीकत है फिर भी,
जितना तुम बदले हो उतना भी नहीं बदला जाता।

54. मुझे उसके आँचल का आशियाना न मिला,
उसकी ज़ुल्फ़ों की छाँव का ठिकाना न मिला,
कह दिया उसने मुझको ही बेवफा…
मुझे छोड़ने के लिए कोई बहाना न मिला।

55. अब भी तड़प रहा है तू उसकी याद में,
उस बेवफा ने तेरे बाद कितने भुला दिए।

56. ये नजर चुराने की आदत
आज भी नही बदली उनकी,
कभी मेरे लिए जमाने से और
अब जमाने के लिए हमसे।

57. ऐ बेवफा तेरी बेवफ़ाई में दिल बेकरार ना करूँ,
अगर तू कह दे तो तेरा इंतेज़ार ही ना करूँ,
तू बेवफा है तो कुछ इस कदर बेवफ़ाई कर,
कि तेरे बाद मैं किसी से प्यार ही ना करूँ।

58. एक बेवफा से प्यार का अंजाम देख लो,
मैं खुद ही शर्मशार हूँ उससे गिला नहीं,
अब कह रहे हैं मेरे जनाज़े पे बैठ कर,
यूँ चुप हो जैसे हमसे कोई वास्ता नहीं।

59. छोड़ गए हमको वो अकेले ही राहों में,
चल दिए रहने वो औरों की पनाहों में,
शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आई,
तभी तो सिमट गए वो गैर की बाहों में।

60. बेवफा से दिल लगा लिया नादान थे हम,
गलती हमसे हुई क्योंकि इंसान थे हम,
आज जिन्हें नज़रें मिलाने में तकलीफ होती है,
कुछ समय पहले उनकी जान थे हम।

Bewafa Shayari In Hindi

61. ट्रैफिक सिग्नल पर आज उसकी याद आ गई,
रंग उसने भी अपना कुछ इसी तरह बदला था।

62. किस-किस को तू खुदा बनाएगी,
किस-किस की तू हसरतें मिटाएगी,
कितने ही परदे डाल ले गुनाहों पे,
बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी।

63. न रहा कर उदास ऐ दिल
किसी बेवफा की याद में,
वो खुश है अपनी दुनिया में
तेरा सबकुछ उजाड़ के।

64. जो कहते थे हमसे हैं तेरे सनम,
वो दगा दे गए देखते देखते।
देते मोहब्बत का इनाम क्या,
वो सजा दे गए देखते देखते।
सोचता हूँ कि वो कितने मासूम थे,
जो बेवफा हो गए देखते देखते।

65. ये उनकी मोहब्बत का नया दौर है,
जहाँ कल मैं था आज कोई और है।

66. कभी जो हम से प्यार बेशुमार करते थे,
कभी जो हम पर जान निसार करते थे,
भरी महफ़िल में हमको बेवफा कहते हैं,
जो खुद से ज़्यादा हमपर ऐतबार करते थे।

67. ये चिराग-ए-जान भी अजीब है,
कि जला हुआ है अभी तलक,
उसकी बेवफाई की आँधियाँ तो,
कभी की आ के गुजर गईं।

68. इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है !
खामोशियो की आदत हो गयी है !
न सीकवा रहा न शिकायत किसी से अगर है तो !
एक मोहब्बत जो इन तन्हाइयों से हो गई है !!

69. मैंने उस से वफ़ा की उम्मीद लगा रखी थी दोस्तों !
जिसके चर्चे आम थे बाजार में बेवफाई के दोस्तों !!

70. जुल्मो सितम सहते रहे एक बेवफा की आस मे !
डुबो दिया मुझे दरिया ने दो घूट की प्यास में !!

71. तू भी बेवफा निकला औरों की तरह, सोचा था !
की हम तुझसे ज़माने की बेवफाई का गिला करेंगे !!

72. आग दिल में लगी जब वो खफ़ा हुए !
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए !
करके वफ़ा कुछ दे ना सके वो !
पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफ़ा हुए !!

73. किसी को इतना भी न चाहो कि भुला न सको क्योंकि !
‪ज़िंदगी_इन्सान_और_मोहब्बत_तीनों_बेवफा‬ हैं !!

74. तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी !
वरना हमको कहां तुम से शिकायत होगी !
ये तो बेवफ़ा लोगों की दुनिया है !
तुम अगर भूल भी जाओ जो रिवायत होगी !!

75. लफ्ज़ वही हैं, माईने बदल गये हैं !
किरदार वही, अफ़साने बदल गये हैं !
उलझी ज़िन्दगी को सुलझाते सुलझाते !
ज़िन्दगी जीने के बहाने बदल गये हैं !!

76. हमें तो कबसे पता था की तू बेवफ़ा है !
तुझे चाहा इसलिए कि शायद तेरी फितरत बदल जाये !!

77. सिखा मुझसे ही मेरी मोहब्बत ने मोहब्बत करने का हुन्नर !
आज मेरी मोहब्बत गैरों से मोहब्बत रचा बैठी !!

78. मुझसे मेरी वफ़ा का सबूत मांग रहा है !
खुद बेवफ़ा हो के मुझसे वफ़ा मांग रहा है !!

79. हसीनो ने हसीन बनकर गुनाह किया,
औरों को तो ठीक पर हम को भी तबाह किया,
अर्ज़ किया जब ग़ज़लों मे उनकी बेवफ़ाई को तो,
औरों ने तो ठीक उन्होने भी वा वा किया

80. तेरी बेवफाई का सौ बार शुक्रिया,
मेरी जान छूटी…इश्क़-ऐ-बवाल से.

81. क्यों जिंदगी इस तरह तुम दूर हो गए
क्या बात है जो इस तरह मगरूर हो गए।
हम तरसते रहे तुम्हारा प्यार पाने को
बेवफा बनकर तुम तो मशहूर हो गए।।

82. वफ़ा निभा के वो हमे कुछ दे ना सके
पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफा हुए

83. अरे बेपनाह मोहब्बत की थी हमने तुझसे ओ बेवफा !
तुझे दुःख दूं ये न होगा कभी खुद मर जाऊं यहीं ठीक है !!

84. ये बेवफा, वफा की कीमत क्या जाने !
ये बेवफा गम-ए-मोहब्बत क्या जाने !
जिन्हे मिलता है हर मोड पर नया हमसफर !
वो भला प्यार की कीमत क्या जाने !!

85. चलो छोड़ो ये बहस कि वफ़ा किसने की
और बेवफा कौन है
तुम तो ये बताओ कि आज ‘तन्हा’ कौन है !!

86. मैंने भी किसी से प्यार किया था
उनकी रहो में इंतजार किया था
हमें क्या पता वो भूल ज्यांगे हमें
कसूर उनका नहीं मेरा ही था
जो एक बेवफा से प्यार किया था !!

87. प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना;
अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना;
वो चाहे लाख नफरते करें तुमसे;
पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम न करना।

88. कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी

89. जिस किसीको भी चाहो वोह बेवफा हो जाता है,
सर अगर झुकाओ तो सनम खुदा हो जाता है,
जब तक काम आते रहो हमसफ़र कहलाते रहो,
काम निकल जाने पर हमसफ़र कोई दूसरा हो जाता है

90. तुम समझ लेना बेवफा मुझको, मै तुम्हे मगरूर मान लूँगा
ये वजह अच्छी होगी, एक दूसरे को भूल जाने के लिये

Bewafa Shayari In Hindi

91. हमारे हर सवाल का सिर्फ एक ही जवाब आया,
पैगाम जो पहूँचा हम तक बेवफा इल्जाम आया।

92. मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा
जिन्हे दावा था वफा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा

93. मेरे कलम से लफ्ज़ खो गए सायद
आज वो भी बेवफा हो गाए सायद
जब नींद खुली तो पलकों में पानी था
मेरे ख्वाब मुझपे रो गाए सायद

94. “तन्हा रहना तो सीख लिया हमने,लेकिन खुश कभी ना रह पाएंगे, तेरी दूरी तो फिर भी सह लेता ये दिल, लेकिन तेरी मोहब्बत के बिना ना जी पाएंगे.”

95. सुकून अपने दिल का मैंने खो दिया; खुद को तन्हाई के समंदर में डुबो दिया;

96. “हमारे इश्क की तो बस इतनी सी कहानी हैं, तुम बिछड गए…हम बिख़र गए. तुम मिले नहीं…और हम किसी और के हुए नही…।”

97. “बस एक बार निकाल दो इस इश्क से ऐ खुदा, फिर जब तक जियेंगे कोई खता न करेंगे .”

98. “बिन बात के ही रूठने की आदत है;किसी अपने का साथ पाने की चाहत है;आप खुश रहें, मेरा क्या है;मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है.”

99. “मुझसे खुशनसीब हैं मेरे लिखे ये लफ्ज, जिनको कुछ देर तक पढ़ेगी निगाहे तेरी ।”

100. “अजीब है महोब्बत का खेल , जा मुझे नही खेलना रूठ कोई ओर जाता है , टूट कोई ओर जाता है ।

यह भी पढ़ें: 

4 thoughts on “Bewafa Shayari In Hindi | बेवफाई शायरी हिंदी में”

  1. Pingback: Breakup Shayari In Hindi | Latest Breakup Shayari | Catchhow

  2. Pingback: Judai Shayari In Hindi | जुदाई शायरी हिंदी में | Catchhow

  3. Pingback: Dosti Shayari In Hindi | बेस्ट हिंदी दोस्ती शायरी | Catchhow

  4. Pingback: Love Shayari In Hindi, Love Shayari, Romantic Shayari Hindi | Catchhow

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *